10/04/2013

क चिन्गारी नज़र आई थी बस्ती मेँ उसे

वो अलग हट गया आँधी को इशारा करके ll

No comments:

Post a Comment

रंग बातें करें और बातों से ख़ुश्बू आए दर्द फूलों की तरह महके अगर तू आए