27/05/2013

और तो कौन है, जो मुझको तसल्ली देता 

हाथ रख देती हैं दिल पर तिरी बातें अक्सर l

No comments:

Post a Comment