03/06/2013

दो चार नही मुझे सिर्फ एक दिखा दो, 

वो शख्स जो अंदर से भी बाहर की तरह हो.

No comments:

Post a Comment

रंग बातें करें और बातों से ख़ुश्बू आए दर्द फूलों की तरह महके अगर तू आए